Sukanya Samriddhi Yojana 2022: सुकन्या समृद्धि योजना 2022

दोस्तो आज हम जानेंगे सुकन्या समृद्धि योजना के बारे में. इस सुकन्या समृद्धि योजना के कब शुरवत हुई, सुकन्या समृद्धि योजना के प्रकार, सुकन्या समृद्धि योजना के लाभ, सुकन्या समृद्धि योजना के लाभार्थी, ये योजना किस के लिए है। इस योजना के माध्यम से लाभार्थी द्वारा निवेश करके एकमुश्त राशि बेटी की शिक्षा या फिर शादी के लिए प्राप्त की जा सकती है। इस लेख के माध्यम से आपको Sukanya samriddhi Yojana से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त होगी। ऐसे ही और अधिक जानकरी चाहते है तो आप बिलकुल सही जग पर आए है। इसके अलावा और ऐसे ही सरकारी योजना हिंदी में सबसे पहले अपडेट प्राप्त कर सकते हैं।

Sukanya Samriddhi Yojana In Highlights सुकन्या समृद्धि योजना योजना की मुख्य विशेषताएं

योजना का नामसुकन्या समृद्धि योजना
इनके द्वारा शुरू किया गयाकेंद्र सरकार द्वारा
लाभार्थीदेश की बालिकाएं
उद्देश्यबेटियों का भविष्य उज्जवल बनाना
ऑफिसियल वेबसाइट यहाँ क्लिक करें

Key Features of Sukanya Samriddhi Yojana सुकन्या समृद्धि योजना मुख्य विशेषताएं

(A) खाता कौन खोल सकता है: –
1. अभिभावक द्वारा 10 वर्ष से कम आयु की बालिका के नाम पर।
2. भारत में पोस्ट ऑफिस या किसी भी बैंक में बालिका के नाम पर केवल एक ही खाता खोला जा सकता है।
3. यह खाता एक परिवार में अधिकतम दो लड़कियों के लिए खोला जा सकता है। बशर्ते जुड़वां/तीन बार लड़कियों के जन्म के मामले में दो से अधिक खाते खोले जा सकते हैं।

(B) जमा: –
(i) खाता न्यूनतम प्रारंभिक जमा रुपये के साथ खोला जा सकता है। 250.
(ii) एक वित्तीय वर्ष में न्यूनतम जमा रु. 250 और अधिकतम जमा रुपये तक किया जा सकता है। एक वित्त वर्ष में एकमुश्त या कई किश्तों में 1.50 लाख (50 रुपये के गुणक में)।
(iii) जमा खोलने की तारीख से अधिकतम 15 वर्ष पूरा होने तक जमा किया जा सकता है।
(iv) यदि न्यूनतम जमा रु। एक वित्तीय वर्ष में खाते में 250 जमा नहीं किया जाता है, खाते को डिफॉल्ट खाते में माना जाएगा।
(v) डिफॉल्ट किए गए खाते को खाता खोलने की तारीख से 15 वर्ष पूरे होने से पहले न्यूनतम रु. का भुगतान करके पुनर्जीवित किया जा सकता है। 250 + रु. प्रत्येक चूक वर्ष के लिए 50 डिफ़ॉल्ट।
(vi) जमाराशियां आयकर अधिनियम की धारा 80सी के तहत कटौती के लिए पात्र हैं।

(C) ब्याज: –
(i) खाता वित्त मंत्रालय द्वारा अधिसूचित निर्धारित दर पर तिमाही आधार पर अर्जित करेगा।
(ii) कैलेंडर माह के लिए ब्याज की गणना पांचवें दिन की समाप्ति और महीने के अंत के बीच खाते में न्यूनतम शेष राशि पर की जाएगी।
(iii) ब्याज प्रत्येक वित्तीय वर्ष के अंत में खाते में जमा किया जाएगा।
(iii) ब्याज प्रत्येक वित्तीय वर्ष के अंत में खाते में जमा किया जाएगा जहां खाता वित्तीय वर्ष के अंत में है। (अर्थात बैंक से पीओ या इसके विपरीत खाते के हस्तांतरण के मामले में)
(iv) अर्जित ब्याज आयकर अधिनियम के तहत कर मुक्त है।

(D) खाते का संचालन: –
-> खाता अभिभावक द्वारा तब तक संचालित किया जाएगा जब तक कि बालिका वयस्क (अर्थात 18 वर्ष) की आयु प्राप्त नहीं कर लेती।

(E) निकासी: –
(i) बालिका के 18 वर्ष की आयु प्राप्त करने या 10वीं कक्षा उत्तीर्ण करने के बाद खाते से निकासी की जा सकती है।
(ii) पूर्ववर्ती वित्तीय वर्ष के अंत में उपलब्ध शेष राशि का 50% तक आहरण किया जा सकता है।
(iii) निकासी एकमुश्त या किश्तों में, प्रति वर्ष एक से अधिक नहीं, अधिकतम पांच वर्षों के लिए, निर्दिष्ट सीमा के अधीन और शुल्क/अन्य शुल्क की वास्तविक आवश्यकता के अधीन की जा सकती है।

(F) समय से पहले बंद: –
(i) खाता खोलने के 5 वर्ष बाद निम्नलिखित शर्तों पर खाता समय से पहले बंद किया जा सकता है: –
-> खाताधारक की मृत्यु पर। (मृत्यु की तारीख से भुगतान की तारीख तक पीओ बचत खाता ब्याज दर लागू होगी)।
-> अत्यधिक अनुकंपा के आधार पर
(i) खाता धारक की जान को खतरा।
(ii) अभिभावक की मृत्यु जिसके द्वारा खाता संचालित होता है।
(iii) ऐसे बंद करने के लिए आवश्यक पूर्ण दस्तावेज और आवेदन।
(vi) समय से पहले खाता बंद करने के लिए संबंधित डाकघर में पासबुक के साथ निर्धारित आवेदन पत्र जमा करें।

(G) परिपक्वता पर समापन:-
(i) खाता खोलने की तारीख से 21 साल बाद।
(ii) या 18 वर्ष की आयु प्राप्त करने के बाद बालिका की शादी के समय। (विवाह की तारीख से 1 महीने पहले या 3 महीने बाद)।

Objective of Sukanya Samriddhi Yojana 2022 सुकन्या समृद्धि योजना 2022 का उद्देश्य

योजना का उद्देश्य लड़कियों को शिक्षा के क्षेत्र में आगे बढ़ाना और विवाह योग्य होने पर पैसो की कमी न आने देना। देश के गरीब लोग बचत खाते में अपनी बेटी की पढाई और शादी में होने वाले खर्च को आसानी से पूरा कर सकते है और अपनी बेटी का खाता न्यूनतम 250 रूपये में बैंक में खुलवा सकते है। इस SSY 2022 से देश की लड़कियों को प्रोत्साहन मिलेगा और वह आगे बढ़ पायेगी। इस योजना के ज़रिये लड़कियों की भ्रूण हत्या को रोकना।

In Which Bank Can Open Sukanya Samridhi Yojana सुकन्या समृद्धि योजना किन किन बैंक में खोल सकते है

जो बैंक योजना के तहत खाता खोलने के लिए अधिकृत हैं उनमें भारतीय स्‍टेट बैंक, यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया, यूनियन बैंक ऑफ इंडिया, यूको बैंक, सिंडिकेट बैंक, पंजाब नेशनल बैंक, पंजाब एंड सिंध बैंक, इंडियन ओवसीज बैंक, इंडियन बैंक, आईडीबीआई बैंक, आईसीआईसीआई बैंक, सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया, केनरा बैंक, बैंक ऑफ महाराष्‍ट्र, बैंक ऑफ इंडिया, बैंक ऑफ बड़ौदा, एक्‍सिस बैंक शामिल हैं। यह खाता किसी भी डाकखाने में खोला जा सकता है।

Sukanya Samriddhi Yojana Interest Rate सुकन्या समृद्धि योजना ब्याज दर

योजना के तहत जमा की जाने वाली रकम पर वार्षिक ब्याज निम्न वर्णित तालिका के आधार पर दिया जाएगा। यह अन्य जमा योजनाओं से अधिक आकर्षक ब्‍याज दर है। सरकार हर प्रति तिमाही ब्याज दर की समीक्षा करेगी और आम बजट के समय उसकी घोषणा की जाएगी। हर वर्ष जमा की जाने वाली रकम की न्‍यूनतम सीमा 250 रुपये और अधिकतम सीमा 1.5 लाख रुपये हैं। एक महीने में या एक वित्‍त वर्ष के दौरान रकम जमा करने की बारम्‍बारता की कोई सीमा नहीं है। अभिभावक द्वारा 14 वर्षों तक किए गए निवेश के आधार पर ही SSA के अंतर्गत ब्याज का लाभ प्राप्त होता है।

How is the interest calculated on Sukanya Samriddhi Account? सुकन्या समृद्धि खाते पर ब्याज की गणना कैसे होती है?

सुकन्या समृद्धि योजना में हर तिमाही पर भारत सरकार जी सेक यील्ड के हिसाब से ब्याज दर तय करती है।SSY में अब तक दिया गया ब्याज : –

  1. अप्रैल 1, 2014: 9.1%
  2. अप्रैल 1, 2015: 9.2%
  3. अप्रैल 1, 2016 – जून 30, 2016: 8.6%
  4. जुलाई 1, 2016 – सितम्बर 30, 2016: 8.6%
  5. अक्टूबर 1, 2016 – दिसम्बर 31, 2016: 8.5%
  6. जुलाई 1, 2017 – दिसंबर 31, 2017: 8.3%
  7. जनवरी 1, 2018 – मार्च 31, 2018: 8.1%
  8. अप्रैल 1, 2018 – जून 30, 2018: 8.1%
  9. जुलाई 1, 2018 – सितंबर 30, 2018: 8.1%
  10. अक्टूबर 1, 2018 – दिसंबर 31, 2018: 8.5%
  11. जनवरी 1, 2019 – जून 30, 2019: 8.5%
  12. जुलाई 1, 2019 – मार्च 31, 2020: 8.4%
  13. अप्रैल 30, 2020 – जून 30, 2020: 7.6%
  14. जुलाई 1, 2020 – सितम्बर 30, 2020 7.6
  15. अक्टूबर 1, 2020 – दिसंबर 31, 2020 7.6%
  16. जनवरी 1, 2021 – मार्च 31, 2021 7.6%
  17. अप्रैल 1, 2021 – जून 30, 2021 7.6%
  18. जुलाई 1, 2021 – सितम्बर 30, 2021 7.6%

Who Can Open an Account in Sukanya Samriddhi Yojana सुकन्‍या समृद्धि योजना में कौन खाता खोल सकता है

उच्‍च शिक्षा हेतु सुकन्‍या समृद्धि खाता को केवल जन्म से लेकर 10 वर्ष की उम्र की लड़की के नाम पर ही खाता खुलवाया जा सकता है। अर्थात सुकन्‍या समृद्धि के अंतर्गत 10 वर्ष से अधिक उम्र की लड़कियों का अकाउंट ओपन नहीं किया जा सकता है, इस योजना का लाभ हिंदू अविभाजित परिवार (HUF) एवं अनिवासी भारतीय (एन आर आई) नहीं प्राप्त कर सकते हैं, यदि खाता ओपन करने के पश्चात कोई बच्ची एन आर आई बन जाती है, तो उसे सुकन्या समृद्धि योजना का खाता बंद करना होगा। यदि खाता बंद नहीं किया जाता है, तो एन आर आई बनने के पश्चात इस खाते में किसी प्रकार का ब्याज प्रदान नहीं किया जाएगा।

Documents for Opening Sukanya Samriddhi Yojana Account सुकन्‍या समृद्धि योजना खाता खोलने के लिए दस्तावेज

खाता खोलने के लिए तीन दस्‍तावेजों की आवश्‍यकता है
1. अस्‍पताल या सरकारी अधिकारी द्वारा प्रदान किया गया लड़की का जन्‍म प्रमाण पत्र।
2. लड़की के माता-पिता या कानूनी अभिभावक के निवास का प्रमाण पत्र, जो पासपोर्ट, ड्राइविंग लाइसेंस, बिजली या टेलीफोन बिल, मतादाता पहचान पत्र, राशन कार्ड या भारत सरकार द्वारा प्रदत्‍त अन्‍य कोई भी प्रमाण पत्र जिसमें निवास का उल्‍लेख हो।
3. पैन कार्ड या हाईस्‍कूल प्रमाण पत्र भी खाता खोलने के लिए मान्‍य है। खाता खोले जाने के बाद उसे भारत में कहीं भी स्‍थानांतरित किया जा सकता है।

महत्वपूर्ण उपयोगी लिंक

रजिस्ट्रेशन फॉर्म यहाँ क्लिक करें

Sukanya Samriddhi Yojana FAQs

सुकन्या समृद्धि योजना के तहत बालिकाओं को दी जाने वाली आयु सीमा में कितनी छूट है?

कोई भी बालिका जिसने योजना शुरू होने से ठीक 1 वर्ष पहले 10 वर्ष की आयु प्राप्त कर ली है, वह भी योजना का लाभ उठाने के लिए पात्र है। तो, 2 दिसंबर 2003 और 1 दिसंबर 2004 के बीच पैदा हुई कोई भी लड़की सुकन्या समृद्धि योजना का लाभ उठाने के लिए पात्र है।

सुकन्या समृद्धि खाता कौन खोल सकता है?

कोई भी कानूनी अभिभावक या बालिका के माता-पिता अपनी बालिका की ओर से सुकन्या समृद्धि खाता खोल सकते हैं।

क्या एक अनिवासी भारतीय सुकन्या समृद्धि योजना का लाभ उठा सकता है?

अभी तक, इस मुद्दे के संबंध में कोई आधिकारिक संचार नहीं हुआ है और ऐसे एनआरआई फिलहाल सुकन्या समृद्धि योजना के अंतर्गत नहीं आते हैं।

क्या मैं अपने सुकन्या समृद्धि खाते से समय से पहले पैसे निकाल सकता हूँ?

नहीं। केवल 50% तक की आंशिक निकासी की अनुमति है और वह भी तब जब बालिका कम से कम 18 वर्ष की आयु प्राप्त कर चुकी हो। यह राशि केवल उच्च शिक्षा या बालिका की शादी के खर्च के लिए ही निकाली जा सकती है।

क्या सुकन्या समृद्धि योजना पूरे भारत में उपलब्ध है?

हां। सुकन्या समृद्धि एक केंद्र सरकार की योजना है और इस तरह देश के प्रत्येक राज्य में मौजूद है।